Saturday, July 11, 2020

उत्तराखंड में राजकीय कर्मचारियों, पेंशनरों और उनके आश्रितों के शीघ्र बनेंगे 15 लाख गोल्डन कार्ड, राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण ने तैयार किया डाटा.

उत्तराखंड में सरकारी कर्मचारियों, पेंशनरों और उनके आश्रितों के 15 लाख गोल्डन कार्ड शीघ्र  बनाए जाएंगे। इसके लिए राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण ने कर्मचारियों और उनके आश्रितों का डाटा तैयार कर लिया है। सेवारत कर्मचारियों के कार्ड विभागीय डीडीओ (आहरण वितरण अधिकारी) और पेंशनरों के कार्ड कोषाधिकारी कार्यालय से बनेंगे।
       राज्य सरकार ने प्रदेश के तीन लाख कर्मचारियों और पेंशनरों को अटल आयुष्मान योजना के अंतर्गत असीमित खर्च तक कैशलेस इलाज की सुविधा दी है। इसमें आईपीडी और ओपीडी इलाज दोनों ही शामिल हैं।
वहीं, कर्मचारियों और पेंशनरों को इलाज कराने के लिए सरकारी अस्पताल से रेफर करने की शर्त नहीं रहेगी। योजना में इलाज के लिए कर्मचारियों और पेंशनरों को प्रति माह के हिसाब से अंशदान की भी कटौती की जनि है. 
राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण ने कर्मचारियों और पेंशनरों का गोल्डन कार्ड बनाने के लिए डाटा तैयार कर लिया है। सभी को मिला कर करीब 15 लाख कार्ड बनाए जाएंगे। योजना में कर्मचारी व पेंशनर के माता-पिता, 25 वर्ष की आयु के बेटा-बेटी, विधवा, तलाकशुदा पुत्री को भी योजना का लाभ मिलेेगा। राज्य अटल आयुष्मान योजना के निदेशक (प्रशासन) डॉ. अभिषेक त्रिपाठी का कहना है कि प्रदेश के सभी राजकीय कर्मचारियों, पेंशनरों और उनके आश्रितों का डाटा तैयार है। ऐसे में डाटा को योजना में ऑनलाइन अपडेट किया जा रहा है। यह पूरी प्रक्रिया मई माह में संपन्न हो जनी  थी लेकिन कोरोना वायरस के से पैदा हुए हालातों के कारण इसमें बिलम्ब हुआ. राज्य स्वास्थ्य प्राधिकरण ने अब तैयारिया पूरी कर ली है और योजना का लाभ अब कर्मचारियों और पेंशनर्स को शीघ्र मिलने जा रहा है.
जाने - राज्य कर्मचारी कैसे करें अटल आयुष्मान योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन Click Here

No comments:

Post a Comment

पोस्ट पर अपने उपयोगी विचार और सुझाव यहाँ कमेंट करें।

Featured post

मिशन कोशिश के अंतर्गत अर्थशास्त्र विषय में पूर्व संबोधों की यहां करें तैयारी

मिशन कोशिश के अंतर्गत अर्थशास्त्र विषय में पूर्व संबोधों की यहां करें तैयारी    PM SHRI Atal Utkarsh Govt. Inter College Jakhnidhar T.G. Sus...